रविवार, 18 अप्रैल 2010

सब कुछ तेरे नाम किया

अपने सपने
अपनी नींदें
अपनी मंजिल
अपनी राहें
सब कुछ तेरे नाम किया

अपनी खुशीयाँ
अपनी चाहतें
अपने ख्वाब
अपनी रातें
सब कुछ तेरे नाम किया

तेरे वादे
मेरी दुआएं
तेरे ख़त
तेरी तस्वीरें
सब कुछ तेरे नाम किया

अपनी मौहब्बत
अपना दिल
अपनी किस्मत
अपन जीवन
सब कुछ तेरे नाम किया

14 टिप्‍पणियां:

PRAN SHARMA ने कहा…

Achchha samarpan hai.kavita sundar
hai.Badhaaee.

बेनामी ने कहा…

अपने सपने
अपनी नींदें

छोटे छोटे शब्द लेकिन कविता रूपि माला में बहुत सुन्दर लग रहे हैं गुंथे हुए. भैय्या; आपकी ऐसी छोटी कवितायें ना जाने क्यूँ कुछ ज्यादा ही आकर्षित करती है. मुझे बहुत अच्छी लगती हैं. ऐसा लगता है जैसे कोई मेरे सामने ही वो कविता किसी से कह रहा है.

Unknown ने कहा…

मैं आपकी ऐसी ही कविताओं का इंतज़ार करती रहती हूँ. शब्दों का चयन इतना अच्छा होता है कि उन्हें बार बार पढने को और दोहराने को जी चाहता है. कितना अच्छा लिझा है आपने -

अपनी मौहब्बत
अपना दिल
अपनी किस्मत
अपना दिल
सब कुछ तेरे नाम किया

फिर ऐसा लग रहा है कि शुभ-कामना देते हुए क्या लिखूं ? शब्द ही नहीं मिलते हर बार .बहुत खुबसूरत

Shekhar Kumawat ने कहा…

thoda bahut bacha lete to shayad aaj ye nobat nahi aati

bahut khub


shekhar kumawat

http://kavyawani.blogspot.com/

Unknown ने कहा…

अपनी खुशीयाँ
अपनी चाहतें
अपने ख्वाब
अपनी रातें
सब कुछ तेरे नाम किया
ऐसा कोई तो जरूर होता होगा चाहनेवाला. सच्ची मौहब्बत का एक बहुत सुन्दर गीत जिसमे प्रेम कूट कूट कर भरा हुआ हैं. क्या बात है !!!!!!!!!!!

V Singh ने कहा…

कितना प्रवाह वाला गीत है. बहुत ही खुबसूरत.

Unknown ने कहा…

मौहब्बत का ये ज़ज्बा बहुत पसंद आया. सब कुछ तेरे नाम लिया. अपने ख्वाब किसी और के नाम करना; ये मेरा भी पसंदीदा ख़याल है.

Unknown ने कहा…

हर किसी को ऐसी मौहब्बत नसीब हो. एक बहुत ही दिलकश रचना.

अपने सपने
अपनी नींदें
अपनी मंजिल
अपनी राहें
सब कुछ तेरे नाम किया

Unknown ने कहा…

तेरे वादे
मेरी दुआएं
तेरे ख़त
तेरी तस्वीरें
#####
क्या बात है !!!! इतनी जबरदस्त चाहत !

Unknown ने कहा…

अपनी खुशीयाँ
अपनी चाहतें
अपने ख्वाब
अपनी रातें
सब कुछ तेरे नाम किया

simply wonderfull. small small lines but still so amazing. wowww

Unknown ने कहा…

ऐसी वसीयत जिसे मिल जाए वो दुनिया को सबसे खुशकिस्मत प्रेमिका होगी. आपने बहुत बढ़िया लिखा है. मेरी भाषा में अप्रतिम आणि अतिशय चांगला

manjul ramdeo ने कहा…

bahut hi aachi or prem ras se bahri kavita h dil ko chune wale har sabdh h ....
khushnaseeb h wo...
koi bhi kavita padho aapki usi m koh jate h....
kuch apna jamna yaad aa jata h...

संजय भास्‍कर ने कहा…

बहुत सुंदर और उत्तम भाव लिए हुए.... खूबसूरत रचना......

संजय कुमार
हरियाणा
http://sanjaybhaskar.blogspot.com

संजय भास्‍कर ने कहा…

बहुत ही खुबसूरत.